Tuesday, August 20, 2013

प्रेम की राह

कभी कभी जीतना ज्यादा जरुरी नही होता है ...
जीना भी आना चाहिए ;
और अक्सर प्रेम की राह पर जीते हुए हारा जाता है .
हां ! सच्ची ! तुम्हारी कसम !!!

1 comment:

  1. सही कहा श्रीमान विजय कुमार जी

    कविता By Aditya Kumar

    ReplyDelete